Home /मेरा पालनहार अल्ल्लाह है / जब अल्लाह तआला से विश्वास उठ जाये

जब अल्लाह तआला से विश्वास उठ जाये


जब अल्लाह तआला से विश्वास उठ जाये

अल्लाह पर विश्वास ऐसा बिंदु है जो आदमी के जीवन को मिश्रित गुलामी से निकाल कर उसे उस एक अल्लाह की इबादत की ओर फेर देता है जो इबादत(पूजा) के योग्य है

जब ईमान (विश्वास) की कंुजी अधिकतर आदमी के जीवन से गायब हो जाये तो उस का लाज़मी परिणाम तंगी और घुटन होगा जो कुछ समुदायों को इस बात की ओर उभारेगा कि वह आत्महत्या के लिये नित नये तरीके़ निकालें ताकि वह तंग और घुटन वाले जीवन से छुटकारा पा सकें, संपूर्ण प्रशंसा अल्लाह तआला के लिये है कि उस ने इस्लाम की निधि (नेमत) दी और यह निधि बहुत है,और आप यह खबर भी पढें़

दुनिया से निकलने (मरने) का नया तरीक़ा

”फिलिप नितचेक“ जो आॅस्ट्रेलिया मे दया वाली आत्महतया की ओर बुलाता है,उस का कहना है कि आत्महतया की मशीन जिसे (बाहर निकलने का बैग) कहा जाता है,और जिसे कनाडा से मेल द्वारा अनुरोध किया जाता है, देश में उस की महत्वपूर्ण बिक्री हो रही है

उस मशीन की क़ीमत 30 अमेरिकी डाॅलर है,जिस के साथ प्लास्टिक से बना एक विशेष बैग आता है जिस के माध्यम से घुटन के कारण जान निकल जाती है.

”नितचेक“ ने आॅस्ट्रेलिया के (ए. बी.सी) रेडियो के माध्यम से यह स्पष्ट किया कि मशीन किसी हद तक तकलीफ देने वाली है परन्तु पराण निकालने में कारगर है.

अधिक कहा कि इस का उपयोग आम है,और नितचेक कहते हैं कि मशीन, उस के विवरण और उस से सम्बंधित चीज़ों के विषय में डेली अनेक लोगांे से उन की बात चीत होती है।

दूसरी ओर ब्रिटिश की एक महिला जो असबी निज़ाम (तंन्नान्निका तंन्न) को प्रभावित करने वाली बीमारी से पीडि़त थी जिस में आदमी गतिशीलता की क्षमता खो देता है,लंदन सुप्रीम कोर्ट में एक मुकदमा दायर किया ताकि उस के पति को अपनी बीवी के जीवन को समाप्त करने में सहायता की अनुमति मिल जाये।

और रेडियो लंदन के अनुसार 42 साल की ”डायने पिरेटी“ भी दो साल पहले इस बीमारी से पीडि़त थी, और रेडियो के अनुसार वह न्यायपालिका की सहायता लेने पर मजबूर हुयी क्यांेकि अधिकारियों ने कहा कि यदि उस का पति अपनी पतनी के जीवन को समाप्त करने के लिये उस की सहायता करेगा तो पुलिस उसे गिरफतार कर सकती है। {सर्व शक्तिमान अल्लाह कहता हैः ”और जो मेरी याद से मुंह फेरेगा उस का जीवन तंग रहेगा और हम क़यामत के दिन उसे अंधा करके उठायेंगे“।}[ताहाः124]